किस्से और कहानी

दिलचस्प व रहस्यमयी हैं हनुमान जी से जुड़ीं बातें

हनुमान जयंती एक हिंदू पर्व है। यह चैत्र माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस दिन को हनुमान जी के जन्मदिन के तौर पर मनाया जाता है।

29 Mar 11:30 AM

गुफा में हुआ था हनुमान जी का जन्म, ये है मंदिर से जुड़ा रहस्य

इस सप्ताह की आखिरी तारीक 31 मार्च, शनिवार को हनुमान जयंती का पर्व मनाया जाएगा।

27 Mar 11:15 AM

रामनवमी के शुभ अवसर पर जानिए वास्तव में कौन हैं श्रीराम

जिन्होंने भारतीय ही नहीं विश्व के अधिकांश लोगों के संपूर्ण व्यवहार, व्यक्तित्त्व, चेतना व जीवन को गहनतम रूप से प्रभावित किया है।

22 Mar 11:50 AM

श्रीराम जी के चरण चिन्ह में है अपार शक्ति

संतों की सहायता के लिए राजाधिराज भगवान श्री रामचंद्र जी ने अपने चरण कमलों में सुख देने वाले इन चिह्नों को धारण किया है।

07 Mar 12:45 PM

ब्रह्मा के एक वरदान से जब इस असुर ने बनाई मुर्दों को जीवित करने वाली बावड़ी

ब्रह्मा जी से वर पाने के उपरांत तारकासुर के तीन पुत्र तारकाक्ष, कमलाक्ष और विद्युन्माली ने मयदानव के द्वारा तीन पुर (त्रिपुर) तैयार करवाए।

05 Mar 12:15 PM

रावण से खफा हो श्रीलंका को छोड़ यहां विराजमान हो गई थी देवी दुर्गा

भारत में एेसे कई मंदिर है जो अपने रहस्य को लेकर विश्वभर में प्रसिद्ध है। उन्हीं में से एक कश्मीर में श्रीनगर के तुलमुल गांव में खीर भवानी के नाम से एक देवी मंदिर विख्यात है।

27 Feb 10:50 AM

महाशिवरात्रि व्रत कथा

एक बार एक गाँव में एक शिकारी रहता था। पशुओं की हत्या करके वह अपने कुटुम्ब को पालता था। वह एक साहूकार का ऋणी था, लेकिन उसका ऋण समय पर न चुका सका। क्रोधवश साहूकार ने शिकारी को शिवमठ में बंदी बना लिया।

10 Feb 12:50 PM

संकट चौथ व्रत कथा

किसी नगर में एक कुम्भार रहता था। एक बार उसने बर्तन बनाकर आंवा लगाया तो आंवा पक ही नहीं। हारकर वह राजा के पास जाकर प्रार्थना करने लगा। राजा ने राजपंडित को बुलाकर कारण पूछा तो राल्पन्दित ने कहा की हर बार आंवा लगते समय बच्चे की बलि देने से आंवा पक जाएगा राजा का आदेश हो गया।

03 Feb 15:10 PM

संकष्टी चतुर्थी 2018 व्रत कथा: भगवान शंकर ने मनोकामना पूर्ति के लिए किया था यह व्रत

संकष्टी चतुर्थी 2018 पर व्रत करके कथा पढऩे वाले व्यक्ति की मन की शक्ति प्रबल होती हैं, ऐसी मान्यता हैं। शास्त्रों में कहा गया है कि यह व्रत मनोकामना पूर्ण करने के लिए भगवान शिव ने भी किया था।इस व्रत वाले दिन श्रद्धालु सूर्योदय से लेकर चंद्रोदय तक व्रत करते हैं।

02 Feb 16:45 PM

हटकेश्वर महादेव मंदिर के साथ जुड़ी दिलचस्प कहानी

खारुन नदी के तट पर स्थित महादेव मंदिर के पीछे त्रेता युग की एक दिलचस्प कहानी जुड़ी हुई है। जिसके चलते यहां देशभर ही नहीं विदेशों से भी श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। यह मंदिर खारुन नदी के तट पर होने की वजह से महादेव घाट के नाम से प्रसिद्ध है। रायपुर शहर से 8 किमी दूर स्थित 500 साल पुराना भगवान शिव का यह मंदिर प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है।

02 Feb 16:30 PM

भगवान विष्णु ने देवकी और वसुदेव के घर क्यों लिया कृष्णावतार ?

स्वायम्भुवमन्वन्तर में जब माता देवकी का पहला जन्म हुआ था, उस समय उनका नाम ‘पृश्नि’ तथा वसुदेव ‘सुतपा’ नामक प्रजापति थे। दोनों ने संतान प्राप्ति की अभिलाषा से सूखे पत्ते खाकर और कभी हवा पीकर देवताओं का बारह हजार वर्षों तक तप किया।

05 Jan 16:00 PM

राधा जन्म की कहानी : ब्रह्मवैवर्त पुराण के अनुसार मां के गर्भ से नहीं जन्मी थी राधा

धर्म ग्रंथों के अनुसार, भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को राधा जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इसी दिन व्रज में श्रीकृष्ण के प्रेयसी राधा का जन्म हुआ था। ब्रह्मवैवर्त पुराण के अनुसार, राधा भी श्रीकृष्ण की तरह ही अनादि और अजन्मी हैं, उनका जन्म माता के गर्भ से नहीं हुआ। इस पुराण में देवी राधा जन्म से जुड़ी एक अद्भुत कथा का उल्लेख मिलता है।

05 Jan 16:55 PM

मनुष्य का प्रारब्ध

मन्द प्रारब्ध मेरा नाम जपने से कट जाते है । तीव्र प्रारब्ध किसी सच्चे संत का संग करके श्रद्धा और विश्वास से मेरा नाम जपने पर कट जाते है । पर तीव्रतम प्रारब्ध भुगतने ही पडते है।

04 Jan 17:30 PM

देवशयनी एकादशी व्रत की कथा

एक बार देवर्षि नारद ने ब्रह्माजी से देवशयनी एकादशी का महत्व जानना चाहा। तब ब्रह्माजी ने उन्हें बताया कि सतयुग में मांधाता नामक एक चक्रवर्ती राजा थे।

03 Jul 11:35 AM

शीतला माता की कहानी

यह कथा बहुत पुरानी है। एक बार शीतला माता ने सोचा कि चलो आज देखु कि धरती पर मेरी पूजा कौन करता है, कौन मुझे मानता है। यही सोचकर शीतला माता धरती पर राजस्थान के डुंगरी गाँव में आई और देखा कि इस गाँव में मेरा मंदिर भी नही है, ना मेरी पुजा है।

27 Mar 17:00 PM